अब पाक सेना ने दो  शहीद जवानों के शव को किया क्षत-विक्षत श्रीनगर।  पाकिस्तान का इलाज़ जरुरी है।  यहाँ आतंकी  देश हैवानियत को भी पार कर रहा है।  अब सीमा पर पाकिस्तानी सेना द्वारा एक बार फिर से भारतीय शहीदों के साथ बर्बरता की घटना सामने आई है। पाकिस्तान ने सोमवार को न सिर्फ सीजफायर का उल्लंघन किया बल्कि फायरिंग...
श्रीनगर।  जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के पंजगाम स्थित सेना के शिविर पर  27 अप्रैल को  फिदायीन आतंकवादियों ने तड़के भीषण हमला किया जिसमें सेना के एक कैप्टन और दो जवान शहीद हो गये, जवाबी कार्रवाई में दो आतंकवादी भी मारे गये। सेना के सूत्रों ने हमले में सेना के एक कैप्टन, एक जेसीओ और एक जवान के शहीद होने...
नई दिल्ली।  काश्मीर में हिज़्बुल मुजाहिदीन कमांडर बुरहान वानी की मौत पर मातम  मनाने वाले बुद्धिजीवी  सुकमा काण्ड पर चुप क्यों हैं ? सुकमा में  नक्सलियों के धोखे से मारे गए सीआरपीएफ के जवान भी तो किसी के बेटे थे।  भाई थे, पिता थे, पति थे।  बुद्धिजीवियों की खामोशी चिंताजनक है।  सुकमा में  नक्सलियों के बुरकापाल इलाके में 26...
नई दिल्ली। संसद में केंद्र सरकार भी बान चुकी है कि देश के लिए सबसे ज्यादा बलिदान होने वालों में उत्तराखंड के लोग सबसे आगे हैं। उत्तराखंड के इन शहीदों की कुछ घटनाएं यहां दे रहे  हैं।------------------ देश के लिए उत्तराखंड का एक और जवान शहीद--- कालाढूंगी: कोटाबाग का एक और लाल सोमवार रात देश के लिए शहीद हो गया। कोटाबाग के...
नई दिल्ली।  देश की  रक्षा करते हुए मारे गए सेना और अर्ध सैनिक बलों के जवानों की लगभग 10 हजार विधवाएं हैं।  सेना की जीप पर बंधे कश्मीरी युवक की तरफदारी करने वालों को यह तथ्य भी याद रखना चाहिए। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने सोशल मीडिया पर शेयर किया एक वीडियो चर्चा में  है जिसमें सेना...
नई दिल्ली। ऑपरेशन मेघदूत आज से 33 साल पहले इसी दिन (13 अप्रैल) लॉन्च किया गया था। भारतीय सेना के इस बहुत महत्वपूर्ण ऑपरेशन को शौर्य और पराक्रम की मिसाल के तौर पर देखा जाता है। 1984 में सियाचिन ग्लैशियर को फतह करने के उद्देश्य से इस ऑपरेशन को लॉन्च किया गया था। सेना का यह ऑपरेशन इस लिहाज से...
प्राचीन ग्रंथों में तपोभूमि हिमवन्त बदरीकाश्रम, उत्तराखंड केदारखण्ड आदि नाम से प्रसिद्ध भू-भाग का नाम गढ़वाल सन् 1950 ई. के आसपास पड़ा। ख्याति प्राप्त इतिहासकारों का यह मत है कि उस वक्त इस प्रदेश में बावन या चौंसठ छोटे-छोटे सामन्तशाही ठाकुरगढ़ थे। ऋग्वेद में इन गढ़ों की संख्या 100 है। इसलिए अनेक गढ़ वाले देश अर्थात गढ़वाला या गढ़वाल...
नई दिल्ली , 7  मार्च 2017 ।देश के लिए शहादत देने के मामले में उत्तराखंड नम्बर एक पर है। यह कोई बयानबाजी नहीं है बल्कि देश की सर्वोच्च पंचायत यानी संसद में केंद्र सरकार ने भी माना है। आबादी के हिसाब से शहादत के मामले में यह औसत उत्तराखंड सबसे आगे हैं। संसद में हाल में रक्षा मंत्रालय से संबंधित...

FOLLOW ME

0FansLike
259FollowersFollow
4,354SubscribersSubscribe

WEATHER

- Advertisement -