नई दिल्ली। मिस्ड कॉल! जी हां मिस्ड कॉल के नाम पर बदमाशों के गैंग उत्तराखंड की भोली-भाली महिलाओं को अपनी बातों में उलझा कर फंसा रहे हैं। यही वजह है कि उत्तराखंड से लड़कियां और महिलाएं गायब होने की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। सरकारी आंकड़े गवाह हैं कि हर साल लगभग 50 लड़कियों और महिलाओं के गायब होने...
नोएडा।  एक साल होने को है।   नोएडा के  सेक्टर 22 में रहने वाली कशिश रावत  12 मई 2016 को खेलने के लिए बाहर गई थीं लेकिन  वह  लौटकर घर पर नहीं आई। गायब हुई बच्ची के माता पिता परेशान हो कर उसे ढूंढने लगे। थक-हार कर जब कोई पता न चला तो उन्होंने पुलिस में रिपोर्ट की।  आज 10...
कोटद्वार।  उत्तराखंड में भी हैवानज्यादा पैदा होने लगे हैं।  कोटद्वार में एक पति ने बेड टी देने से मना करने पर अपनी पत्नी को कैंची घोंपकर कर दी हत्या कर दी.  पुलिस ने वारदात के बाद भागने की फिराक में लगे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पौड़ी के एसएसपी मुख्तार मोहसिन ने घटना की जानकारी देते हुए बताया, 'कोटद्वार...
दिल्ली से लेकर देश-विदेश में इस लेख को पढ़ने वाले दोस्तो क्या आपने कभी अपने पुरखों के बनाए पुंगड़ों (खेतों) को याद किया है। जिन पुंगड़ों को बनाने में कई पीढ़ियां खप गईं होगी, उन्हें छोड़ने में हमने कोई वक्त नहीं गंवाया। दिल्ली, मुंबई जैसे महानगरों में पल बढ़ रही पीढ़ी को भद्वाड़, सारी, पुंगड़ा, सगोड़ा, स्यारा, उखड़ जैसे शब्दों...
-----  व्योमेश चन्द्र जुगरान ( हिमालयीलोग दिल्ली में उत्तराखंड के पुराने पत्रकारों को याद कर रहा है।  वीरेन्द्र बर्त्वाल पहली पीढ़ी के पत्रकारोंमें से एक थे ।  22 जुलाई को उनकी  नौवीं पुण्यतिथि थीं।) ---------------------------------------------- नई दिल्ली। परम आदरणीय वीरेन्द्र बर्त्वालजी तब नवभारत टाइम्स दिल्ली मे न्यूज एडिटर थे। मैं नभाटा के जयपुर संस्करण में था। जब भी दिल्ली आना होता, बर्त्वाल जी...
नई दिल्ली। उत्तराखंड में शायद ही कोई महीना होता होगा जब पहाड़ में बस या कार- टैक्सी खाई में न गिरती हो। हिमाचल के गूमा के समीप त्यूनी भीषण बस हादसा पहाड़ के लिए कोई नया हादसा नहीं है। यहां आए दिन इस तरह की दुर्घटनाएं होती रहती हैं लेकिन सरकारी तंत्र कभी भी सचेत नहीं हो पाया। त्यूनी  की...
देहरादून।   उत्तराखंड के कार्बेट टाईगर रिजर्व में न्यूनतम 208 विशिष्ट बाघ और राजा जी टाइगर रिजर्व में न्यूनतम 34 विशिष्ट बाघो की पहचान की गई है। पिछले वर्ष यह संख्या कार्बेट टाईगर रिजर्व में 163 एवं राजा जी टाईगर रिजर्व में 16 पायी गई थी। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बुधवार को मुख्यमंत्री आवास पर कार्बेट और राजा जी...
  इधर देहरादून जाने का कई बार मौका मिला। हर बार देहरादून को पहले से बदतर हालत में देखा।  देहरादून उत्तराखंड की राजधानी है और वहां जाकर हर बार सोचता रहा हूं कि आखिरकार यह शहर दिल्ली न सही लेकिन हैदराबाद,बंगलुरू अथवा चंडीगढ़ की तरह विकसित क्यों नहीं हो पा रहा है। इसे तो साफ सुथरा और सुंदर होना चाहिए...

FOLLOW ME

0FansLike
388FollowersFollow
6,957SubscribersSubscribe

WEATHER

- Advertisement -