बेतुका है उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय का ड्रेस कोड फरमान

0
196

देहरादून। उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री हैं अरविंद पांडेय ।  पांडेय का नया फरमान प्रदेश के शिक्षकों के साथ पढ़े लिखे समाज के गले नहीं उतर पा रहा है। पांडेय का फरमान है कि उत्तराखंड में सरकारी स्कूलों में बच्चों के साथ अब टीचरों को भी यूनिफार्म पहननी होगी।
शिक्षा महानिदेशालय के इस फरमान के अनुसार शिक्षकों के लिए डार्क स्काई ब्लू रंग की कमीज और स्टील ग्रे रंग की पैंट और शिक्षिकाओं के लिए आसमानी रंग की साड़ी या सूट को बतौर ‘ड्रेस कोड’ घोषित किया गया है।
शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने साख कर दिया है कि  शिक्षकों के लिए तय ड्रेस कोड विद्यालयों में सभी पर लागू होगा। प्रधानाचार्य व प्रधानाध्यापक भी इसी ड्रेस कोड का पालन करेंगे। यहां तक कि वे खुद भी इस ड्रेस कोड को फॉलो करेंगे। गौरतलब है कि शिक्षा मंत्री की पहल पर विद्यालयों में शिक्षकों-शिक्षिकाओं के जींस, टी शर्ट, टॉप नहीं पहनने का फैसला पहले ही लिया जा चुका है।
दरअसल, पांडेय को यह फैैसला लेने से पहले प्रदेश वासियों को टीचरों की यूनिफार्म कोड के फायदे भी बताने चाहिए थे। पांडेय को शिक्षकों के कपड़ों की बजाए शिक्षा का स्तर सुधारने की कोशिश करनी चाहिए। स्कूलों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करानी चाहिए।
————————–

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here